एक्सक्लूसिव

टीएनटी स्टोन क्रेशर कम्पनी के कारण धूल खाने को मजबूर हैं पुरा गांव के ग्रामीण

लोगो को मिल रही फ्री में स्वांस की बीमारी, किसानों की फसलों का हो रहा नुकसान

तत्वप्रकाश पाठक

लवकुशनगर। लवकुशनगर जनपद पंचायत अंर्तर्गत ग्रामं पँचायत में लगी  टी एन टी  स्टोन क्रेसर कम्पनी मनमानी करने में लगी है गांव से 100 की दूरी में क्रेसर लगाकर गाँव वालों को फ्री में स्वांस की बीमारी देने में लगे है साथ ही फसले खराब हो जाती है पुरा निवासी हल्के सिंह परिहार ने बताया की जब रात्रि में क्रेसर चलती है और जब सुबह सोकर उठते है तो हमारे कपङे में धूल से भरे मिलते हम लोग परेशान है खाना के साथ धूल भी खानी पड़ती है  वंही ग्रमीण दशरथ ने बताया की रास्ता छोटी है दिनभर कम्पनी से ठेला और डम्फर निकलते है जिससे धूल के साथ साथ हमारे छोटे छोटे बच्चों को भी जान का खतरा बना रहता है महिला ग्रामीण कौशल्या तिवारी ने बताया की रात  क्रेसर चलती है इतनी आवाज आती है जिससे  हम लोग सो नही पाते सुबह कपड़ो में धूल  की चढ़ी मिलती है ये तो कुछ नही चाहे जितनी सफाई से खाना बनाये लेकिन खाने में धूल मिल ही जाती है हम लोग खाने के साथ साथ धूल भी खाने को मजबूर है कम्पनी मैनेजर को भी बहुत समझाया लेकिन वो तो यही कहता चाहे जितनी शिकायत कर लो कुछ नही होने वाला। गौरतलब हो कि लवकुशनगर अनुविभाग में एक दर्जन से ज्यादा क्रेशर संचालकों के द्वारा मनमानी करने के कारण ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले ग्रामीणों में भारी रोष व्याप्त है। देर रात तक क्रेशरों का संचालन होता है जिससे उडऩे वाली धूल के कारण ग्रामीण क्षेत्र में निवास करने वाले लोगों को श्वांस की बीमारी होरही है। इसके अलावा खेतों में लगी फसल को भारी नुकसान हो रहा है। जिसकी शिकायत कई बार खनिज अधिकारी एवं लवकुशनगर के एसडीएम से भी की गई परंतु क्रेशर संचालकों के आगे जिले के अधिकारी नत्मस्तक हैं। आने वाले समय में ग्रामीण क्रेशर संचालकों के खिलाफ उग्र आंदोलन कर सकते हैं फिलहाल यह मामला विधानसभा क्षेत्र के विधायक के द्वारा विधानसभा में भी उठाया जा सकता है।

अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!