मध्यप्रदेश

Due to Western Disturbance there will be drizzle today and heavy rain from 5 to 8 September | पश्चिम विक्षोभ के कारण आज बूंदाबांदी होगी और 5 से 8 सितंबर तक तेज बारिश

खरगोन16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अलनीनो ने रोका था मानसून का रास्ता

जिले में एक पखवाड़े से तेज बारिश का इंतजार कर रहे किसानों के लिए राहत की खबर है। अगले सप्ताह तेज बारिश हो सकती है। शुक्रवार से हल्की बूंदाबांदी शुरू होगी। जबकि 5 से 8 सितंबर के बीच तेज बारिश की संभावना है। पाकिस्तान और राजस्थान के ऊपर एक पश्चिमी विक्षोभ बनने से तेज हवाएं चलेगी और बारिश होगी।

सूख रही फसलों को जल्द ही बारिश तर कर सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक पाकिस्तान और राजस्थान के ऊपर एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। जिससे पश्चिम उत्तर हिस्से में तेज हवाएं चल रही है। सितंबर में यह सिस्टम सक्रिय होगा। जिससे एक बार फिर मानसून एक्टिव हो सकता है और अच्छी और भारी बारिश हो सकती है।

मौसम वैज्ञानिक पीके शाह का पूर्वानुमान है कि आगामी 3 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती घेरा सक्रिय हो सकता है। जिसके प्रभाव से मानसून ट्रफ लाइन के सामान्य स्थिति में आते ही नमी आना शुरू हो जाएगी और फिर से बारिश का दौर शुरू होगा। हालांकि 1 व 2 सितंबर को भी हल्की बूंदाबांदी हो सकती है।

उन्होंने कहा कि अलनीनो ने मानसून का रास्ता रोक रखा था, जिसके कारण बारिश नहीं हो पाई। जिले में 15 इंच तक बारिश हुई है। इससे फसल सूखने की कगार पर पहुंच चुकी है। सबसे ज्यादा खरगोन, भीकनगांव, भगवानपुरा, सेगांव, झिरन्या क्षेत्र में फसलें खराब हो चुकी है। फसल के पत्ते सूख गए हैं। शिवना के किसान भगवान सिंह गौड़ के खेत में सोयाबीन की फसल सूखने लगी है।

क्षेत्र के किसान श्याम सिंह पंवार ने बताया कि इस सप्ताह तेज बारिश नहीं हुई तो फसलें पूरी तरह से खराब हो जाएगी। क्योंकि फसलों की बढ़वार रुक गई है। तेज बारिश मिलने से राहत मिलेगी। उधर, जिले में अब तक 378 मिमी यानी करीब 15 इंच बारिश हुई है। जबकि पिछले साल 596 मिमी यानी 24 इंच तक बारिश हो चुकी थी। जिले में कई सालों के बाद अगस्त माह में सबसे कम बारिश हुई है। तापमान 30 डिग्री को पार कर गया।


Source link

एडवोकेट अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!