मध्यप्रदेश

Story of District Registrar Office | जिला पंजीयक कार्यालय की कहानी: एक दिन में मिला 6 करोड़ का राजस्व, पर रजिस्ट्री करवाने आए लोग हुए परेशान, लिफ्ट खराब; कंधे में टांगकर उठाए परिजन – Jabalpur News

जबलपुर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वित्तीय वर्ष मार्च-अप्रैल के अंतिम दिनों में जब जमकर रजिस्ट्री होती है तो ऐसे समय पर रजिस्ट्री कराने आने वालों को सुविधा देने के बजाय लोगों को परेशान किया जा रहा है। जिला पंजीयक कार्यालय में रजिस्ट्री कराने आए लोगों को कभी सर्वर के कारण तो कभी अधिकारियों की अनुपस्थिति के चलते परेशानी झेलनी पड़ी। हद तो तब हो गई जब रजिस्ट्री करवाने पंजीयक कार्यालय पहुंचे बुजुर्ग को लिफ्ट खराब होने के कारण समस्या झेलनी पड़ी। बुजुर्ग वाकर और व्हील चेयर में परिजनों के सहारे दो मंजिला भवन में रजिस्ट्री कराने जाने को मजबूर हुए। जिला पंजीयक का कहना था कि बीते कुछ दिनों से लिफ्ट खराब हो गई है। भोपाल से मैकेनिक को बुलाया गया है, उनके आने के बाद ही लिफ्ट ठीक होगी। जिला पंजीयक का कहना है कि ऐसे बुजुर्ग जो कि सीढ़ियां चढ़कर आ नहीं सकते उनके लिए लैपटॉप के माध्यम से उनके पास जाने की सुविधा रखी गई है। पर असल में बुजुर्गो को जब ये सुविधा नहीं मिली तो उन्होंने पंजीयक कार्यालय में फैली अव्यवस्था की पोल खोलकर रख दी।

वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन रजिस्ट्री करवाने आए लोगों को सर्वर के कारण खासा परेशान होना पड़ा।

वित्तीय वर्ष के अंतिम दिन रजिस्ट्री करवाने आए लोगों को सर्वर के कारण खासा परेशान होना पड़ा।

एक दिन में हुई 380 रजिस्ट्री- 6 करोड़ रुपए का राजस्व साल के


Source link

एडवोकेट अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!