मध्यप्रदेश

Boyfriend commits suicide at girlfriend’s house | प्रेमिका के घर प्रेमी ने की आत्महत्या: युवती बोली-चाबी मांगा, बोला आराम करूंगा, घरआकर देखा तो फांसी पर लटका था ;पुलिस कर रही हैं जांच – Jabalpur News

जबलपुर में शनिवार की रात 20 वर्षीय एक युवक ने अपनी प्रेमिका के घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना अधारताल थाना के सुहागी इलाके की है, घटना की जानकारी मिलते ही अधारताल थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा कर पीएम को लिए मेडिकल कालेज भिजवा

.

प्रेमिका के सुहागी स्थित घर पर आकर फांसी लगा ली अंश ने।

प्रेमिका आई तो फांसी पर लटका था अंश
शनिवार की रात को करीब 8 बजे अंश युवती की दुकान पहुंचा, जहां पर वह थोड़ी देर तक बैठा रहा, इसके बाद उसने युवती से घर की चाबी मांगी और बोला कि मैं घर जा रहा हूं, आप लोग आ जाना। इस पर युवती ने अंश से कहा कि थोड़ी देर रूको साथ में चलते है। इसके बाद भी जब अंश नहीं माना तो युवती ने उसे चाबी दे दी। रात करीब साढ़े दस बजे युवती और उसकी मां घर पहुंची तो दरवाजा खुला हुआ था, अंदर जाकर देखा तो अंश फांसी पर लटककर तड़प रहा था, युवती और उसकी मां ने जैसे-तैसे उसे नीचे उतारा तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पड़ोस के लोगों ने डायल 100 को सूचना दी, घटना की जानकारी मिलते ही थाना प्रभारी राजकुमार खटीक के साथ मृतक युवक के परिजन भी घटनास्थल पर पहुंच गए।

अंश की आत्महत्या करने की जानकारी मिलते ही उसके दोस्त भी पहुंच गए मौके पर।

अंश की आत्महत्या करने की जानकारी मिलते ही उसके दोस्त भी पहुंच गए मौके पर।

दोनों को समझाया पर नहीं माने
20 वर्षीय युवक अंश कुमार पटेल 12 वीं तक की पढ़ाई करने के बाद जॉब की तलाश कर रहा था। जानकारी के मुताबिक तीन साल पहले दोनों की दोस्ती फेसबुक से हुई थी। दोनों जबलपुर के रहने वाले थे, लिहाजा जल्द ही उनकी दोस्ती हो गई और फिर मुलाकात होने लगी। युवती के पिता की मौत हो चुकी है, घर पर वह अपनी मां के साथ रहा करती है। अंश और युवती के अफेयर पर उसकी मां को भी कोई आपत्ति नहीं थी। अक्सर अंश युवती के घर आया-जाया करता था। घर के बाहर के काम युवती को कहीं जाना होता तो वह अंश के साथ ही जाया करती थी। मृतक अंश के पिता संतोष पटेल का कहना है कि उसने अपने बेटे अंश और युवती दोनों को समझाया था कि एक-दूसरे से दूर रहे, पर दोनों ही मानने को तैयार नहीं। संतोष के मुताबिक शाम को घर से यह कहकर निकला था कि 9 बजे तक घर लौटकर आ रहा हूं। रात साढ़े दस बजे पुलिस ने सूचना दी कि बेटे अंश ने सुहागी के एक घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

इसी पंखे के सहारे फांसी पर झूल गया था अंश ।

इसी पंखे के सहारे फांसी पर झूल गया था अंश ।

किसी को नहीं पता क्यों कि आत्महत्या
अंश की मौत के बाद से जहां उसके माता-पिता सदमें है तो वहीं युवती भी यह नहीं बता पा रही है कि आखिर क्यों उसने आत्महत्या की। पुलिस की पूछताछ में युवती ने बताया कि तीन साल से अंश के साथ उसकी दोस्ती है। घर पर हमेशा वो आया-जाया करता था, जिस पर मां को भी कोई आपत्ति नहीं थी। घर के साथ-साथ जहां पर सब्जी की दुकान लगाती थी, वहां आकर भी अंश बैठा करता था। आज करीब 8 बजे आया और कहा कि घर की चाबी दे दो, मैं वहां जाकर आराम करूंगा। चाबी लेकर वह घर चला गया। रात को जब घर पहुंचे तो वह पंखे के सहारे फंदे पर लटका हुआ था। फांसी लगाने के लिए अंश ने सोफा और कुर्सी लगाकर रखी थी। बताया जा रहा है कि युवती से दोस्ती रखने को लेकर परिवार के लोगों ने उसे डांटा था, हालांकि पुलिस आत्महत्या की वजह कुछ और मान रही है।

घटना की जानकारी मिलते ही अधारताल थाना पुलिस पहुंची मौके पर।

घटना की जानकारी मिलते ही अधारताल थाना पुलिस पहुंची मौके पर।

मर्ग कायम कर की जा रही है जांच
अधारताल थाना प्रभारी के मुताबिक 20 वर्षीय अंश कुमार पटेल अपने माता-पिता के साथ हाउसिंग बोर्ड कालोनी में रहा करता था। घर से करीब दो किलोमीटर की दूरी पर उसकी प्रेमिका का घर है, जहां पर कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। मौके से किसी भी प्रकार का सुसाइड नोट नहीं मिला है। अश ने आत्महत्या के लिए आखिर क्यों अपनी प्रेमिका का घर चुना, यह भी बड़ा सवाल है। थाना प्रभारी का कहना है कि मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भिजवा कर जांच की जा रही है। युवती और उसकी मां के अलावा मृतक के पिता संतोष पटेल के भी बयान दर्ज किए गए है। आत्महत्या करने की वजह क्या थी इसकी जानकारी जुटाई जा रही है।


Source link

एडवोकेट अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!