खास खबरडेली न्यूज़

ईमानदारी और निष्ठा से करें लोगों का उपचार: सत्यव्रत चतुर्वेदी/ गांधी आश्रम में प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र के नए भवन का लोकार्पण

छतरपुर। गांधी स्मारक निधि छतरपुर के केन्द्र पर अब प्राकृतिक चिकित्सा की सुविधाओं को विस्तार मिल सकेगा। रविवार को यहां पूर्व सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी द्वारा प्रदान की गई २५ लाख रूपए की सांसद निधि सहित अन्य सहयोग से निर्मित किए गए नवीन भवन का लोकार्पण किया गया। इस कार्यक्रम में पूर्व सांसद श्री चतुर्वेदी मुख्य अतिथि रहे। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि केन्द्रीय गांधी स्मारक निधि नई दिल्ली के रामचन्द्र राही एवं सचिव संजय सिंह रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता गांधी स्मारक  निधि छतरपुर के अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद आर्य ने की।


मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार रखते हुए पूर्व सांसद श्री चतुर्वेदी ने कहा कि देश की संसद के द्वारा सभी सांसदों को ये अधिकार दिया जाता है कि वे जनता की राशि को जनहित के काम के लिए खर्च करें। इसी अधिकार स्वरूप जब मुझे यहां प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र के नवीन भवन के निर्माण हेतु आग्रह किया गया तो मैंने सहर्ष इसके लिए राशि प्रदान की थी। इस राशि के माध्यम से निर्मित यह नवीन भवन ज्यादा से ज्यादा लोगों के काम आए, लोग वर्तमान में प्राकृतिक चिकित्सा के प्रति काफी आशा और विश्वास के साथ बढ़ रहे हैं। उन्होंंने कहा कि अब यहां काम करने वाले लोगों की निष्ठा और समर्पण की भावना यह तय करेगी कि इन संसाधनों का लाभ कितने लोगों को मिलता है। उन्होंने कहा कि कुदरती तत्वों से इलाज की यह पद्धति आदिम युग से चली आ रही है। जरूरत है इसे जन-जन तक पहुंचाने की। इस मौके पर भोपाल से आए गांधीवादी नरोत्तम स्वामी, दिल्ली से आए रामचन्द्र राही, संजय सिंह एवं दमयंती पाणी सहित दुर्गाप्रसाद आर्य ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम के दौरान इस कार्य में सहयोग करने के लिए कांगे्रस नेत्री कीर्ति विश्वकर्मा, नगर पालिका छतरपुर की टीम सहित अन्य सहयोगियों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। इस मौके  पर एक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए।
सुबह ७ बजे से मिलेगा लोगों को उपचार
गांधी आश्रम की प्रबंधक दमयंती पाणी ने बताया कि जल, वायु, मिट्टी, अग्रि और आकाश इन पंचभूतों से शरीर को स्वस्थ करने की चिकित्सा विधि का लाभ वैसे तो कई वर्षों से गांधी आश्रम के द्वारा लोगों को दिलाया जा रहा है। यहां पदस्थ रहे वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. रामचरण विद्यार्थी को इस अवसर पर सम्मानित भी किया गया। सुश्री पाणी ने बताया कि अब नवीन भवन के कारण यहां सुविधाएं और बढ़ जाएंगी। हरियाणा से आए दो चिकित्सक यहां सेवाएं देंगे। सुबह ७ बजे से १० बजे तक सभी रोगों के रोगी यहां आकर चिकित्सा का लाभ ले सकते हैं। फिलहाल यहां मरीजों को परामर्श और उपचार दिया जाएगा। कुछ दिनों के बाद यहां मरीजों के भर्ती किए जाने की सुविधा भी प्रारंभ होगी। लगभग ३२.५ लाख की लागत से निर्मित इस भवन में ६ कमरे एवं एक हॉल है जहां ५० लोगों को भर्ती कर उपचार दिया जा सकेगा।

अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!