खास खबरडेली न्यूज़मध्यप्रदेश

पानी को बचाना है तो हर दिन मनाएं जल दिवस: कलेक्टर तालाबों के पुनर्जीवित अभियान में निभाएं सहभागिता

छतरपुर। विश्व जल दिवस के अवसर ऑडिटोरियम छतरपुर में परमार्थ संस्था द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्यअतिथि कलेक्टर संदीप जी आर द्वारा जल संरक्षण की शपथ दिलाई गई और गड़े में पानी डालकर पानी को बचाने का संदेश दिया गया। इस दौरान कलेक्टर ने कहा कि पानी के उपयोग को कम से कम करने की जरूरत है। पानी को आवश्यकता के हिसाब से उपयोग में लाये।  उन्होंने कहा कि भू-जल स्तर को बढ़ानें के लिए पेड़-पौधे ज्यादा से ज्यादा लगाये एवं जमीन को कैसे रिचार्ज कर सके जिससे जमीन के अंदर पानी की उपलब्धता बनी रही और वर्षा का जल सीधे जमीन में पहुंचे इसके लिए सामूहिक प्रयास करना चाहित।कलेक्टर ने पानी की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि अगर पानी को बचाना है तो हर दिन जल दिवस मनाना होगा।  जिससे हमारी जल संरक्षण को लेकर श्रृद्धा बनी रहे। उन्होंने बताया कि छतरपुर जिले में तालाबों को स्वच्छ एवं पुनर्जीवित करने का अभियान प्रशासन द्वारा चलाया जा रहा है। इस अभियान में सभी जिलेवासी सहयोग करें। जमीनी स्तर पर पानी का सीधा जुड़ाव महिलाओं से होता है और वह इसकी अहमियत को समझती है। इसके लिए महिलाओं को आगे आने की जरूरत है और पुरूषों को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। उन्होंने कहा कि पानी का अभाव होने लगा है तो जल दिवस मनाने लगें है। हमें अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए जल सुरक्षित करना है। तो बारिस के पानी को कलेक्ट करें एवं जरूरत अनुसार उपयोग करें एवं तालाबों में गंदा पानी एवं कचरा न डाले। भू-जल स्तर बढ़े इसके लिये मेहनत करनी पड़ेगी। ग्राम की महिलाओं के सहयोग से परमार्थ संस्था द्वारा जल संरक्षण के लिए चलाई गई मुहीम सराहनीय है। इस अवसर पर नारी शक्तियां एवं जल सहेलियां उपस्थित रही।

अरविन्द जैन

संपादक, बुंदेलखंड समाचार अधिमान्य पत्रकार मध्यप्रदेश शासन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!